Sahaj Geetamrit (सहज गीतामृत)

650 553
Language Hindi
Binding Hard Bound
Pages 244
ISBN-10 8196191618
ISBN-13 978-8196191610
Book Dimensions 6" x 9"
Amazon Buy Link
Kindle (EBook) Buy Link
Category:
Author: Dr. Roshan Jha

सहज गीतामृत विश्व की पहली गीता जो की इस सहजता से हिन्दी चौपाई में लिखी गयी। इसे लिखने में सत्ताईस वर्ष का समय लगा। जिसे की अनेक राष्ट्र स्तरिये पुरूस्कारों से सम्मानित किया गया है। इसी पुस्तक के कारण लेखक को अन्तर्राष्ट्रीय संस्था द्वारा डॉक्टरेट की उपाधी से सम्मानित किया गया। बता दें कि गीता में भगवान श्री कृष्ण ने अर्जुन को संबोधित करते हुवे पूरे विश्व को ज्ञान दिया है जिसे न केवल भरतिये विद्वान बल्कि विश्व के बहुत बड़े बड़े लोग भी मानते है। गीता में कुल सात सौ श्लोक कहे गये हैं। जिन को इस किताब में हिन्दी चौपाई के रूप में लिखा गया है जो की इतना सहज है कि किसी तरह से कोई भी अर्थ समझने में कोई कठिनाई नहीं होती। आशा करते हैं कि आप सभी इस पुस्तक को अपने जीवन में शामिल कर इस का लाभ उठायेंगे और सामान्य जीवन जीते हुवे भगवत् प्राप्ति की ओर बढ़ेंगे। सहज गीतामृत विश्व की प्रथम साधारण हिन्दी चौपाई में लिखी गई गीता जो की भगवत् गीता के मूल रूप का रूपांतरण है।

Language

Binding

Hard Bound

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Sahaj Geetamrit (सहज गीतामृत)”

Your email address will not be published. Required fields are marked *